पूजनोत्सव के पश्चात मां लक्ष्मी गणेश की प्रतिमायें महासमिति की देख रेख में हुई विसर्जित


जौनपुर। श्री लक्ष्मी पूजा महासमिति के नेतृत्व में महासमिति से जुड़े समस्त पूजन समितियों की श्री गणेश, मां लक्ष्मी व मां सरस्वती की प्रतिमाएं शनिवार को अध्यक्ष लाल बहादुर यादव नेपाली और महासचिव कृष्ण कुमार जायसवाल के संयुक्त नेतृत्व में आदि गंगा गोमती नदी के तट पर बने शक्ति कुण्ड में विसर्जित कर दी गईं। नखास के विसर्जन घाट पर बने नियंत्रण कक्ष से पूरे कार्यक्रम का संचालन हुआ। इसके पहले पण्डाल से सभी प्रतिमाओं को आयोजकों द्वारा वहीं से शोभायात्रा के रूप में अहियापुर न जाकर सीधे विसर्जन घाट लाया गया। शक्ति कुण्ड पर विसर्जन प्रभारी सहित सहायक बलराम निषाद, रोहित निषाद व जनार्दन निषाद की देख-रेख में सभी प्रतिमाओं का विसर्जन हुआ। शोभायात्रा कार्यक्रम में अतिथि के रूप में अम्बेडकरनगर के विपणन अधिकारी अनिल गुप्ता व समाजसेवी डॉ संदीप पांडेय रहे जिनका स्वागत राहुल सिंह, दिनेश यादव फौजी, सतीश मौर्य, संतोष यादव, वैभव वर्मा ने किया। शोभायात्रा को अग्रसारित करने की जिम्मेदारी संरक्षक डॉ राम नारायण सिंह, विजय सिंह, राकेश श्रीवास्तव, दीपक चितकारिया, रामजी जायसवाल, चंद्रशेखर निषाद बबलू पर रही। कार्यक्रम को सम्पन्न करने में वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय अस्थाना पत्रकार, अजय पाण्डेय, आशुतोष सिंह, सुनील मौर्य, सम्पादक महेंद्र प्रजापति, अब्दुल्ला तिवारी आदि का सहयोग सराहनीय रहा। कार्यक्रम का संचालन महासचिव कृष्ण कुमार जायसवाल ने किया। इस अवसर पर डॉ कमलेश निषाद, वैभव वर्मा, दिलीप जायसवाल, संजय शुक्ला, सत्य प्रकाश जायसवाल, शिवा गुप्ता, जगदीश मौर्य गप्पू, महफूज अली सिद्दीकी सहित तमाम लोग उपस्थित रहे। अंत मे अध्यक्ष लाल बहादुर यादव नेपाली ने समस्त आगंतुकों व सहयोगियों के प्रति आभार व्यक्त किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम