शटल ट्रेन के संचालन से गदगद हुए यात्री, तो सासंद के प्रतिनिधि ने किया स्वागत



जौनपुर। कोराना काल से लम्बे समय तक बड़े इन्तजार और जनप्रतिनिधिगण के तमाम प्रयासों के बाद आज वाराणसी से लखनऊ के लिए सुबह वरूणा के स्थान पर शटल ट्रेन का संचालन शुरू हो गया। यह ट्रेन वाराणसी से चलकर जौनपुर सिटी स्टेशन पहुंची तो सासंद जौनपुर श्याम सिंह यादव के प्रतिनिधि सहित बड़ी संख्या में सासंद के समर्थको ने ट्रेन के चालक और गार्ड को बुके आदि देकर सम्मानित किया।
इस संदर्भ में दूरभाष के जरिए सासंद जौनपुर श्याम सिंह यादव ने बताया कि इस ट्रेन के संचालन हेतु रेल मंत्रालय को कई पत्र देते हुए जनता खास कर जौनपुर वाराणसी के यात्रियों की समस्याओ से अवगत कराया गया और सुबह के समय ट्रेन चलाने की मांग की गयी थी।इसके अलाांवा इस मुद्दे को सदन में उठाया गया था जिस पर रेल मंत्री का आश्वासन मिला था। जो आज पूरी हो सका है। अब यह ट्रेन सुबह वाराणसी से लखनऊ जायेगी और शाम को वापस वाराणसी लौटेगी। इसका लाभ जौनपुर के लोंगो को मिलेगा।

यहां बता दे कि वाराणसी कैंट से जौनपुर सिटी स्टेशन होते लखनऊ के लिए शटल एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन शुरू हुआ प्रचार प्रसार न होने के बाद भी ट्रेन 40 फीसदी यात्रिओ से भर गई थी। ट्रेन में कुल 16 बोगियां हैं जिसमे एक एसी कम्पार्टमेंट है। ट्रेन का संचालन प्रतिदिन होगा।


वाराणसी कैंट से सुबह छह बजे चली शटल एक्सप्रेस जौनपुर सिटी स्टेशन पर 6:50 बजे पहुंच गई। यहां से उसका डिपार्चर 7 बजे है इसलिए ट्रेन को 10 मिनट रोककर लखनऊ के लिए रवाना किया गया। स्टेशन से मात्र 40 यात्री रवाना हुए।

सिटी स्टेशन के अधीक्षक एके उपाध्याय ने बताया कि शटल ट्रेन का मात्र तीन स्टेशनों पर ठहराव सुनिश्चित किया गया है। वाराणसी-लखनऊ के बीच सिर्फ जौनपुर सिटी, सुल्तानपुर और निहालगढ़ स्टेशन पर ठहराव होगा। जबकि वरुणा एक्सप्रेस का ठहराव 9 स्टेशनों पर होता था।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर