पीयू के विद्यार्थी जेल में जाकर कैदियों से की मुलाकात,कैदियों के बिषय में हासिल किया जानकारियां



जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में महिला अध्ययन केंद्र और मिशन शक्ति की ओर से मंगलवार को विद्यार्थियों की एक टीम  जिला कारागार पहुंचीं।
विश्वविद्यालय परिसर में कुलसचिव ‌महेंद्र कुमार, उपकुलसचिव  विजय मौर्य और कुलपति के ओएसडी डॉ.के.एस. तोमर ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
जिला कारागार में विद्यार्थियों ने कैदियों से बातचीत की। वह कैसे और किस अपराध में जेल में बंद है? अपराध के पूर्व उनके मन में क्या भावना थी ? अब वह कैसा महसूस कर रहे हैं? विद्यार्थियों का उनसे मिलने का मकसद उनके मन में बदलाव लाना है। यह‌ योजना विश्वविद्यालय की कुलाधिपति एवं  प्रदेश की राज्यपाल माऩनीय श्रीमती आनंदीबेन पटेल के निर्देश पर किया जा रहा है। महिला अध्ययन केंद्र की प्रभारी डॉ. जाह्नवी श्रीवास्तव ने महिला कैदियों की काउंसलिंग की और उन्हें तनाव मुक्त होने के टिप्स दिए। जौनपुर जिला कारागार में 56 विचाराधीन कैदियों और तीन सजायाफ्ता कैदियों की काउंसलिंग की गई। जेल में खानपान और रहने की व्यवस्था का विवरण भी पूछा गया।
इस अवसर पर डॉ. सुनील कुमार, डॉ. एसपी तिवारी, डॉ विनय वर्मा, डॉ. पूजा सक्सेना, डॉ. झांसी मिश्रा, डॉ वनिता सिंह, डॉ. प्रियंका कुमारी, डॉ रेखा पाल, सोनम झा आदि उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ड्रेस के लिए बच्चे को पीटने वाला प्रिन्सिपल अब पहुंचा सलाखों के पीछे

14 और 15 दिसम्बर 21को जौनपुर रहेंगे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव,जानें क्या है कार्यक्रम

ओमिक्रॉन से बढ़ी दहशत,पूर्वांचल के जनपदो में भी मिलने लगे संक्रमित मरीज,प्रशासनिक तैयारी तेजम