भाई के शैक्षिक प्रमाणपत्र पर फर्जी वाड़ा कर नौकरी करने वाला पहुंच गया जेल


फर्जी वाड़े का खेल आज कोई नया नहीं लोग लम्बे समय से इस खेल को करते हुए सरकारी खजाने से वेतन के नाम पर धनोपार्जन करते चले आ रहे है। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के राठ में फर्जीवाड़े का एक मामला प्रकाश में आया है। जहां पर बड़ा गांव निवासी ग्रामीण अपने भाई की मार्कशीट पर फौज में नौकरी के बाद सेवानिवृत्त हो गया। भाई ने कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बड़ा (सरसई) गांव निवासी गंगादीन कुशवाहा उर्फ गंगाराम ने बताया वह छह भाई हैं।
दूसरे नंबर के भाई पंचमलाल ने उनकी मार्कशीट व अन्य दस्तावेज चोरी कर लिए। आरोप है कि उक्त दस्तावेजों के आधार पर अपना नाम गंगादीन बताते हुए पंचमलाल ने फौज में नौकरी कर लिया और 22 सालों तक नौकरी करने के बाद सेवानिवृत्त हो कर गांव आ गया।
गंगादीन ने बताया उक्त दस्तावेजों के आधार पर भाई उनकी जमीन हथियाने का प्रयास करने लगा। इसी के बाद उसकी करतूत का खुलासा हो गया। 18 जनवरी को आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। कोतवाल दिनेश सिंह ने बताया वांछित चल रहा पंचमलाल को अब जा कर गिरफ्तार कर लिया गया है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर का बेटा बना यूनिवर्सिटी आफ टोक्यो जापान में प्रोफ़ेसर, लगा बधाईयों का तांता

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

यूपी में फिर 11 आईएएस अधिकारियों का तबादला, देखे सूची