जौनपुर के मछलीशहर में तैनात सप्लाई इंस्पेक्टर की डेंगू से मौत


जौनपुर। जनपद में डेंगू से लगातार हो रही असामयिक मौतों ने अब स्वास्थ्य विभाग सहित जिला प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों की व्यवस्थाओ पर सवाल खड़ा करना शुरू कर दिया है। आखिर इस गम्भीर संक्रमण बीमारी से बचाव के लिए ठोस कदम क्यों नहीं उठाये जा रहे है। इससे उपचार की व्यवस्थायें क्यों पर्याप्त नहीं हो पा रही है। कागजी बाजीगरी का खेल कब तक चलेगा।
ताजा घटना का जिक्र करें तो जनपद जौनपुर के तहसील मछलीशहर में तैनात सप्लाई इंस्पेक्टर दिनेश पथिक की डेंगू की चपेट मे आने से अकाल मौत हो गई। एक आंकड़े के अनुसार जिले में अभी तक डेंगू से मरने वालो की संख्या एक दर्जन से अधिक हो गयी है इसके बाद भी जिम्मेदार लोग बेखबर कागजी बाजीगरी का खेल कर खुद अपनी पीठ थपथपा रहे है।
खबर है कि जनपद इलहाबाद निवासी खाद्य एवम रसद विभाग के आपूर्ति निरीक्षक दिनेश कुमार पथिक की तैनाती जौनपुर के मछलीशहर मे आपूर्ति निरीक्षक के पद पर थी।वह जौनपुर मे पिछले वर्ष से कार्यरत रहे, दो दिन पूर्व उनकी तबीयत खराब हुई और जांच कराये तो डेंगू व टाइफाइड हुआ था  जिसकी वह चिकित्सालय मे भर्ती होकर उपचार करा रहे थे विगत मंगलवार को उनका निधन हो गया।इसके पहले केराकत तहसील में तैनात कानूनगो चन्द्र प्रकाश सिंह की डेंगू की चपेट में आने से मौत हो गयी थी। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए बदमाशो का शव उनके पिता ने लेने से किया इनकार जानें कारण

गुरूजी को अपनी छात्रा से लगा प्रेम रोग तो अब पहुंच गए सलाखों के पीछे,थाने में हुआ एफआइआर दर्ज

पुलिस मुठभेड़ में दो सगे भाई बदमाश मारे गये एक फरार जिसकी तलाश जारी है