घटना के 13 माह बाद सगी बहनों के चौथे अभियुक्त जेल भेज सकी सिकरारा पुलिस



जौनपुर।जनपद के थाना सिकरारा क्षेत्र स्थित ग्राम कुकरिहांव में भूमि विवाद को लेकर 13 माह पूर्व दो सगी बहनों की हत्या की साजिश उनके चाचा ने रची थी। उसी ने फोन कर अपने पुत्र को हत्या करने के लिए उकसाया था। उसने अपने भाई को भी जान से मार डालने की धमकी दी थी। बता दें आरोपित को मुंबई से गिरफ्तार कर लाने के बाद पुलिस ने यह दावा किया है। अब पुलिस उसे पूछताछ के लिए रिमांड पर लेने की प्रक्रिया में जुटी है।

थानाध्यक्ष रमेश कुमार ने बताया मृत युवतियों पूर्णिमा पांडेय व अंतिमा पांडेय के पिता शिव शंकर पांडेय ने मुकदमा दर्ज कराया था। छानबीन में पता चला कि शिव शंकर के भाई रमा शंकर ने हत्या की साजिश रची थी। उसी ने फोन पर शिव शंकर पांडेय को हत्या की धमकी दी थी और अपने पुत्र मुख्य हत्यारोपित आशीष को भी फोन कर हत्या के लिए उकसाया था। पुलिस ने रमाशंकर पांडेय के विरुद्ध पिछले पखवाड़े हत्या व साजिश रचने की धाराओं में आरोपित किया। थाने के एसआइ विजय शंकर यादव व कांस्टेबल विकास शर्मा को गिरफ्तारी के लिए मुंबई भेजा। 23 जनवरी को पुलिस टीम ने रमाशंकर पांडेय को बाला साहब ठाकरे ट्रामा केयर हास्पिटल जोगेश्वरी (पूर्व) से गिरफ्तार कर लिया। जोगेश्वरी थाने में जरूरी लिखापढ़ी के बाद उसे साथ लेकर आई। इसी के साथ ही उक्त दोहरा हत्याकांड के सभी चारो आरोपित गिरफ्तार किए जा चुके हैं।


बता दें कुकरिहांव गांव निवासी सगे भाइयों शिव शंकर पांडेय व रमा शंकर पांडेय में काफी समय से भूमि विवाद चल रहा था। 18 नवंबर 2021 की सुबह रमा शंकर घर से करीब 50 मीटर की दूरी पर शौचालय बनवा रहे थे। शिव शंकर के परिवार के लोगों ने एतराज किया। बात बढ़ने पर दोनों पक्षों में लाठी-डंडे चलने लगे। आरोप है आशीष ने धारदार हथियार से हमला कर पूर्णिमा पांडेय व अंतिमा को मौत के घाट उतार दिया था। आशीष व उसकी पत्नी ममता और राज मिस्त्री बेचन राम को पहले ही पुलिस ही गिरफ्तार कर चुकी थी। लेकिन बेचन जमानत पर छूट चुका है। अब पुलिस लगभग 13 माह बाद चौथे अभियुक्त के रूप में रमा शंकर को सलाखों के पीछे पहुंचायी है।

Comments

Popular posts from this blog

जिले के पांच प्राथमिक विद्यालयो के औचक निरीक्षण में तीन विद्यालय के मास्टरो को मिली कारण बताओ नोटिस, रोका गया वेतन

स्कूल के आफिस में प्रिसिंपल और टीचर की अश्लील हरकते हुई वायरल,पुलिस क्यों है बेखबर?

दो मोटरसाइकिलो की भीषण टक्कर में लगी आग चार जिन्दा जल मरे, चार घायल उपचार जारी, पुलिस मृतको की शिनाख्त में जुटी