अब स्वामी प्रसाद मौर्य संतो पुरोहितो के निशाने पर,जानें संतो को क्या कहा पूर्व मंत्री ने


प्रदेश के पूर्व मंत्री व सपा के वरिष्ठ नेता स्वामी प्रसाद मौर्य संतों व तीर्थपुरोहितों के निशाने पर हैं। ताजा विवाद उनके ट्वीट को लेकर है, जिसमें उन्होंने संतों, महंतों, धर्माचार्यों व जाति विशेष के लोगों के लिए आतंकवादी, महाशैतान व जल्लाद जैसे शब्द का प्रयाेग किया है। इससे संतों में नाराजगी व्याप्त है।

माघ मेला क्षेत्र में प्रवास कर रहे संतों ने सपा मुखिया अखिलेश यादव से स्वामी प्रसाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। ऐसा न होने पर स्वामी प्रसाद के साथ सपा का विरोध करने की चेतावनी दी है। जगदगुरु स्वामी नरेंद्रानंद सरस्वती ने कहा कि स्वामी प्रसाद जैसे नेता राजनीति को गंदा कर रहे हैं। ऐसे व्यक्ति का धार्मिक व सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा। भक्तों को निर्देश दिया कि स्वामी प्रसाद को किसी कार्यक्रम में न बुलाएं।
परमहंस प्रभाकर जी महाराज ने कहा कि स्वामी प्रसाद के बयान पर सपा मुखिया का मौन धारण करना अत्यंत चिंताजनक है। इससे प्रतीत होता है कि बयान में उनकी सहमति है। प्रयाग धर्म संघ के अध्यक्ष राजेंद्र पालीवाल ने कहा कि स्वामी प्रसाद शीघ्र अपना बयान वापस लें, अन्यथा उनसे हमेशा के लिए दूरी बना ली जाएगी।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?