नैक टीम ने कुलपति को सौंपी मूल्यांकन की रिपोर्ट


ग्रामीण क्षेत्र केे विकास को अवसर समझें विविः प्रो सैकिया

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के आर्यभट्ट सभागार में नैक मूल्यांकन टीम के अध्यक्ष प्रो. दिलीप कुमार सैकिया ने कुलपति प्रो. वंदना सिंह को एग्जिट मीटिंग में रिपोर्ट सौंपी। तीन से पांच दिसंबर 2023 तक तीन दिवसीय निरीक्षण कार्यक्रम में टीम ने विश्वविद्यालय की विभिन्न गतिविधियों का बिंदुवार निरीक्षण किया।
एग्जिट मीटिंग में नैक पीयर टीम के अध्यक्ष प्रो. दिलीप कुमार सैकिया ने कहा कि इस विश्वविद्यालय को आगे बढ़ाने में शिक्षक, अधिकारी, कर्मचारी और विद्यार्थी मिलकर काम कर रहे है यह बहुत सुखद है। पूर्वांचल के ग्रामीण क्षेत्र में स्थित यह विश्वविद्यालय शिक्षा के उच्च मापदंडों पर खरा है। चेयरमैन ने कहा कि पूविवि ने उत्तरोत्तर प्रगति की है यहां का  इंफ्रास्ट्रक्टर बहुत अच्छा है ,  खेल और शोध की प्रगति अच्छी है जो की विवि की शक्ति है। आवासीय सुविधा अच्छी है। सभी को शोध में अच्छे पब्लिकेशन की तरफ बढ़ना चाहिए। आपका विवि ग्रामीण क्षेत्र में होने के बावजूद अच्छा कर रहा है। 
समन्वयक सदस्य प्रो. शंकर दामोधरन ने कहा कि यहां के सभी लोग बहुत अनुशासित हैं। सवालों के जवाब में एविडेंस के साथ अच्छी प्रस्तुति की है जो कि किसी भी विश्वविद्यालय की प्रगति के लिए जरूरी है। यहां का सेंट्रल ऑफ एक्सीलेंस उत्कृष्ट कार्य कर रहा है। प्रो. संजय के. जैन ने कहा कि नैक टीम के सामने मूल्यांकन बहुत बड़ी समस्या होती है। निष्पक्ष मूल्यांकन करने में यहां के लोगों ने हमारी टीम की अच्छी मदद की है। उन्होंने नैक पीयर टीम के तीन दिवसीय निरीक्षण के अनुभवों को साझा किया। विश्वविद्यालय के विदयार्थियों द्वारा प्रस्तुत किये गए सांस्कृतिक कार्यक्रमों की खूब तारीफ की।
विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. वंदना सिंह ने कहा कि हम लगातार अपने विश्वविद्यालय में सुधार कर रहे हैं। साथ ही अपने कोर्स को अपडेट कर रहे हैं। हम विश्वविद्यालय को प्रदेश का उत्कृष्ट विश्वविद्यालय बनाने के लिए निरंतर काम कर रहे हैं। हमारे यहां के शिक्षक, अधिकारी और कर्मचारी सभी टीम भावना से कार्य करते हैं। उन्होंने कहा कि नैक मूल्यांकन को सफल कराने में विश्वविद्यालय के सभी सदस्यों ने अपना पूरा योगदान दिया है। आईक्यूएसी के समन्वयक प्रो. मानस पांडेय ने स्वागत  संचालन डॉ धर्मेंद्र सिंह और धन्यवाद ज्ञापन प्रो. अविनाश पाथर्डीकर ने किया। नैक पीयर टीम की छह सदस्यीय टीम में चेयरमैन प्रो. दिलीप सैकिया, समन्वयक सदस्य प्रो. शंकर दामोधरन, सदस्यगण प्रो. संजय के. जैन, प्रो. कृष्णन त्यागराजन, प्रो. देवानंद पाधा,  प्रो. वृंदा जी. रहीं ।  दिनभर की गतिविधियों में कुलसचिव महेंद्र कुमार,  परीक्षा नियंत्रक वीएन सिंह, उपकुलसचिव अमृतलाल, सहायक कुलसचिव अजीत सिंह,  दीपक सिंह,  बबिता सिंह,  प्रो. वंदना राय, प्रो. अशोक श्रीवास्तव,प्रो. राजेश शर्मा, प्रो. देवराज सिंह, प्रो. मुराद अली,  प्रो. सुरजीत यादव,  प्रो. रजनीश भास्कर, डॉ. प्रमोद कुमार यादव, प्रो. राकेश यादव, ड़ॉ रसिकेश, डॉ. जाह्नवी श्रीवास्तव, डॉ. अनु त्यागी,  डा. प्रवीण सिंह,  सुशील कुमार,  डा. सुनील कुमार,  डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर, डॉ. श्याम कन्हैया, डा. धर्मेंद्र सिंह, कर्मचारी संघ के अध्यक्ष नंद किशोर सिंह महामंत्री रमेश यादव, डॉ. पीके कौशिक, करूणा निराला  आदि रहीं।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद