महिला बैंक कर्मी के आत्महत्या केश में आईपीएस अधिकारी सहित तीन पर मुकदमा दर्ज



पंजाब नेशनल बैंक की सहायक प्रबंधक श्रद्धा गुप्ता आत्महत्या मामले में पिता राजकुमार गुप्ता की तहरीर पर आईपीएस आशीष तिवारी समेत तीन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। श्रद्धा ने अपने सुसाइड नोट में इन तीनों को ही जिम्मेदार ठहराया था। जिस समय आत्महत्या की खबर आई, श्रद्धा गुप्ता के राजाजीपुरम स्थित घर में उनके जन्मदिन की पार्टी की तैयारियां चल रही थीं।
श्रद्धा को दीपावली को घर आना था मगर इससे पहले ही शनिवार को मौत की खबर आ गई। रिश्तेदार व पड़ोसी भी श्रद्धा की मौत से स्तब्ध हैं। वहीं, मामले में आरोपी मंगेतर विवेक गुप्ता को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। सीओ सिटी पलाश बंसल ने बताया कि विवेक गुप्ता से पूछताछ चल रही है। वह पुलिस का जांच में सहयोग कर रहा है। अभी गिरफ्तारी नहीं की गई है।
राजाजीपुरम के सेक्टर-13 में एमआईएस चौराहे के पास रहने वाले राजकुमार गुप्ता की चौक में कोतवाली के पास चिकन के कपड़ों की दुकान है। उनके दो बेटे और दो बेटियों में दूसरे नंबर की श्रद्धा अयोध्या स्थित पीएनबी के सर्किल ऑफिस में स्केल वन अधिकारी के पद पर तैनात थीं। जबकि बड़ी बेटी मोहिनी का विवाह हो चुका है। वह अयोध्या के ख्वासपुरा मोहल्लेे में किराए के मकान में रहती थीं। श्रद्धा को दीपावली पर घर आना था और छह नवंबर को अपना जन्मदिन मनाकर अयोध्या लौटना था। मां सुनीता और दोनों भाई शुभम व संकेत बहन के जन्मदिन की तैयारियां कर रहे थे।
शुभम ने बताया कि 22 अक्तूबर को ही दीदी घर आईं थीं और जन्मदिन पर कपड़ों के साथ ही अन्य गिफ्ट की फरमाइश की थी। दीपावली के साथ ही घर में श्रद्धा के जन्मदिन की भी तैयारियां हो रही थीं मगर शनिवार सुबह एक फोन कॉल से सारी खुशियां मातम में तब्दील हो गईं। पता चला कि अयोध्या में श्रद्धा का शव उनके किराए के कमरे में फांसी के फंदे पर लटका मिला है। बेटी की मौत की खबर से घर में कोहराम मच गया। आनन-फानन राजकुमार, उनकी पत्नी सुनीता, पुत्र शुभम व संकेत अयोध्या रवाना हो गए।
शुभम गुप्ता ने बताया कि करीब एक साल पहले उनकी बहन श्रद्धा की शादी बलरामपुर के उतरौला निवासी विवेक गुप्ता से तय हुई थी। चिनहट इलाके में बीबीडी के पास दयाल रेजीडेंसी में रहने वाला विवेक उस वक्त लखनऊ स्थित एचसीएल में नौकरी करता था। शुभम का आरोप है कि विवेक की हरकतें खराब थीं। कई युवतियों से उसकी दोस्ती थी, जिनका उसके घर पर भी आना-जाना था। कुछ और बातें पता चलने पर विवेक से श्रद्धा की शादी तोड़ दी गई थी। मगर वो श्रद्धा को परेशान कर रहा था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ड्रेस के लिए बच्चे को पीटने वाला प्रिन्सिपल अब पहुंचा सलाखों के पीछे

14 और 15 दिसम्बर 21को जौनपुर रहेंगे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव,जानें क्या है कार्यक्रम

ओमिक्रॉन से बढ़ी दहशत,पूर्वांचल के जनपदो में भी मिलने लगे संक्रमित मरीज,प्रशासनिक तैयारी तेजम