रजला घाट पर पीपा पुल चालू, वाराणसी और जौनपुर के लोगों को आवागमन में होगी सहूलियत


 
गोमती नदी के रजला घाट पर पीपा पुल को अब चालू कर दिया गया। अब दो जिलों की दूरी कम हो गई है। करीब एक सप्ताह पहले इसका निर्माण शुरू हुआ था। इससे वाराणसी और जौनपुर के हजारों लोगों को आवागमन में सहूलियत होगी। इस पुल का निर्माण पिछले साल केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय के प्रयास किया गया था।
बरसात से पहले पीपा पुल को हटा दिया जाता है और दिसंबर से पहले दोबारा पुल का निर्माण किया जाता है। जौनपुर और वाराणसी के बीच यह पुल लोगों की दूरी कम कर देगा। पहाड़िया से सीधे बेला होते हुए नियार, रजला, बरहपुर घाट होते हुए जौनपुर जनपद के पतरही बाजार आसानी से जा सकेंगे।
यहां से गाजीपुर, सैदपुर और आजमगढ़ भी आसानी से जा सकेंगे। इस पुल के निर्माण से व्यवसायिक गतिविधियों और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। सारनाथ और काशी विश्वनाथ मंदिर और मारकंडेय महादेव मंदिर लोग कम दूरी तय दर्शन-पूजन कर सकेंगे। वहीं काशी विद्यापीठ, यूपी कॉलेज और बीएचयू में पढ़ने वाले छात्रों को भी आसानी होगी।
वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि पुल दिसंबर से पहले चालू कर दिया जाना चाहिए। लेकिन लोकनिर्माण विभाग की लापरवाही के चलते पुल देर से चालू हो पाया। हालांकि इससे लोगों को आवागमन में आसानी होगी। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

मल्हनी विधायक लकी यादव एवं उनके एक दर्जन समर्थको पर बक्शा थाने में दर्ज हुआ मुकदमा