उप जिलाधिकारी ने महाभ्रष्ट लेखपाल को किया निलंबित, कार्यालय से किया सम्बद्ध


जौनपुर। उपजिलाधिकारी मड़ियाहूँ अर्चना ओझा ने कूट रचना, फर्जीवाड़ा सहित अन्य गंभीर अनियमितताओं के चलते लेखपाल बुद्ध सेन को निलंबित कर दिया है। खबर है कि 
मड़ियाहूं तहसील में तैनात मुगौना गांव के लेखपाल बुद्धसेन पर अनियमितता के आरोप की जांच में नायब तहसीलदार संतोष सिंह ने किया कूट रचना कर फर्जीवाड़ा की शिकायत सही पाई। उन्होंने इसकी रिपोर्ट तहसीलदार को सौंप दी । इस मामले में तहसीलदार अमित कुमार त्रिपाठी ने भी अपनी रिपोर्ट में भी यह उल्लेखित किया है कि लेखपाल बुद्ध सेन अपने क्षेत्र में निवास नहीं करते हैं। समस्या के निस्तारण में मनमाना रवैया प्रदर्शित करते हैं ।इसके साथ ही घरौनी जैसे महत्वपूर्ण कार्य में आदेश प्राप्त होने पर भी लाने में विलंब किए ,आईजीआरएस जैसे महत्वपूर्ण प्रकरणों में भी समस्या के निस्तारण में कोई अपेक्षित रुचि नहीं दिखाते जो लापरवाही एवं स्वेच्छाचारीता का स्वभाव प्रदर्शित करता है। तहसीलदार ने लेखपाल बुद्धसेन के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई किए जाने की संस्तुति करते हुए रिपोर्ट एसडीएम को भेजी, जिसे गंभीरता से लेते हुए एसडीएम अर्चना ओझा ने लेखपाल बुद्धसेन को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए उन्हें रजिस्ट्रार कानूनगो कार्यालय से संबद्ध कर दिया गया है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन