शहीदों को समर्पित मार्ग विद्यार्थियों के लिए प्रेरणास्रोत- प्रो. निर्मला एस. मौर्य


जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में आजादी के अमृत महोत्सव, हर घर तिरंगा कार्यक्रम के अंतर्गत गुरुवार को  परिसर के मार्गों पर शहीदों के नाम पर लगे शिलापट्ट पर पहुँचकर विश्वविद्यालय परिवार ने उन्हें नमन किया।
कुलपति प्रो. निर्मला एस. मौर्य ने मुख्य द्वार के समीप शहीद मातादीन,बल्लू राम और बांके  मार्ग की शिलापट्टिका पर पुष्प अर्पित किया. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि जौनपुर  एवं देश के अन्य स्थानों के शहीदों की याद में एक दशक पूर्व ही विश्वविद्यालय के मार्गों का नामकरण किया गया था. यह मार्ग विद्यार्थियों को पग- पग पर शहीदों के त्याग और बलिदान की याद दिलाते है। मार्गों का नामकरण शहीदों के नाम करने  पर तत्कालीन कुलपति प्रो. सुन्दर लाल का भी  उन्होंने आभार व्यक्त किया।  
उन्होंने शहीद मातादीन के बलिदान की चर्चा करते हुए कहा कि उन्होंने ही मंगल पाण्डेय में स्वतंत्र भारत के लिए क्रांति की भावना पैदा  की थी.  इसके साथ ही  रामानंद रघुराई, बल्लू राम, बांके, ऊदा देवी, मक्का पासी, झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के अदम्य शौर्य को नमन किया. कुलपति ने देश की सरहदों पर लड़ने वाले वीर सैनिकों की चर्चा करते हुए जो सरहदों पर अपना जीवन बिताते है,फर्ज के नाम पर देखो कैसे यह वीर मुस्कराकर मौत को गले लगाते हैं........ कविता सुनाई।
वित्त अधिकारी संजय कुमार राय ने भी शहीदों के कृतित्व पर प्रकाश डाला. कहा कि वीरांगना उदा देवी ने अपने पति मक्का पासी की मौत का बदला पीपल के पेड़ पर चढ़ 36 अग्रेजों का खात्मा करके लिया था.उनके नाम पर विश्वविद्यालय में मार्ग होना हमें गौरवान्वित करता है।नोडल अधिकारी डॉ मनोज मिश्र ने शहीदों के नाम पर बने मार्गों की पृष्ठभूमि की चर्चा करते हुए शहीदों के बारे में बताया. धन्यवाद ज्ञापन अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. अजय द्विवेदी ने किया।
इस अवसर पर कुलसचिव महेंद्र कुमार, परीक्षा नियंत्रक बी एन सिंह, प्रो. मानस पांडेय,  प्रो. वंदना राय, प्रो. एके श्रीवास्तव, प्रो. संदीप सिंह, प्रो. प्रदीप कुमार, प्रो. रजनीश भास्कर, प्रो. मुराद अली,डॉ. राजकुमार, डॉ प्रमोद यादव,  एआर अजीत कुमार सिंह, बबिता सिंह, डॉ. राजीव, डॉ. दिग्विजय सिंह राठौर, डॉ जान्हवी श्रीवास्तव, अन्नू त्यागी, डॉ. श्याम कन्हैया, डॉ. शशिकांत,डॉ. नितेश, डॉ. अवध बिहारी सिंह, डॉ चन्दन सिंह, विनय वर्मा, डॉ. पीके कौशिक, श्याम श्रीवास्तव,पंकज सिंह  समेत विभिन्न विभागों के विद्यार्थी, शिक्षक और कर्मचारी उपस्थित रहें. 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में आज फिर तड़तड़ायी गोलियां एक की मौत दूसरा घायल पहुंचा अस्पताल,छानबीन मे जुटी पुलिस

बिजली कर्मियों हड़ताल को देख, वितरण व्यवस्था संचालन हेतु नोडल और सेक्टर अधिकारी नियुक्त

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच