फैक्ट्री मैनेजर कान्ड:आखिर पुलिस इसे दुर्घटना क्यों मान रही है,जबकि मौके पर हत्या में प्रयुक्त आला कतल राड डन्डा मिला है ?


जौनपुर। थाना जलालपुर क्षेत्र में फैक्ट्री मैनेजर की संदिग्ध हाल में हुई मौत के मामले में अब एक नया मोड़ सामने आ गया। मैनेजर के बेटे संदीप का आरोप है कि उसके पिता की दुर्घटना में मौत नहीं हुई बल्कि साजिश के तहत हत्या की गई है। उसने पुलिस को दुर्घटना में मौत होने की तहरीर देने से साफ इनकार कर दिया। 
संदीप ने बताया कि घटना के समय उसे किसी ने सूचना दी कि तुम्हारे पापा लाल मोहन का घर के पास एक्सीडेंट हो गया है। यही जानकारी मैंने पुलिस को दी थी। लेकिन मौके पर रक्तरंजित डंडा व लोहे का राड मिलना हत्या की पुष्टि करता है। दूसरी तहरीर में संदिग्ध स्थिति में मौत की तहरीर दी है। इसे संज्ञान में लेकर पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए। हमें न्याय मिलना चाहिए। 
लहंगपुर स्थित अपने घर पर संदीप ने कहा कि गांव के इस मार्ग पर वाहन बहुत कम चलते हैं। जो चलते हैं, उनकी गति बहुत कम होती है। ऐसे में दुर्घटना की मौत की संभावना बहुत कम है। यदि दुर्घटना हुई होती तो शर्ट-पैंट नहीं फटती। पैंट की पीछे की जेब कुछ फटी थी, जिसमें वह अपना पर्श रखकर बटन बंद करते थे। संभवत: पर्स खींचने में फट गया हो। उनकी बाइक भी पूरी तरह सुरक्षित थी। पुलिस को छानबीन कर कातिलों को पकड़ना चाहिए।
मालूम हो कि गत सोमवार की रात राम प्लाई फैक्ट्री के मैनेजर 54 वर्षीय लाल मोहन अपने घर के पास बेहोशी की हालत में गंभीर रूप से जख्मी मिले थे। वाराणसी ले जाने पर डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। शव लेकर स्वजन घर चले आए थे। पुलिस घटना को दुर्घटना करार देते हुए मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए बदमाशो का शव उनके पिता ने लेने से किया इनकार जानें कारण

गुरूजी को अपनी छात्रा से लगा प्रेम रोग तो अब पहुंच गए सलाखों के पीछे,थाने में हुआ एफआइआर दर्ज

पुलिस मुठभेड़ में दो सगे भाई बदमाश मारे गये एक फरार जिसकी तलाश जारी है