दुखःदः बहन की राखी बधनें से पहले एक भाई बहन की आबरू बचाने में शहीद हो गया हत्यारे गिरफ्तार लेकिन तनाव बरकरार

जनपद प्रयागराज में रक्षाबंधन से एक दिन पहले एक बहन से उसका भाई हमेशा-हमेशा के ल‍िए छीन ल‍िया गया। 10वीं में पढ़ने वाले मासूम भाई की गलती स‍िर्फ इतनी थी क‍ि उसने अपनी बहन के साथ हो रही छेड़खानी का व‍िरोध क‍िया था। इस घटना ने एक बार फिर सूबे में बवाल मचा द‍िया है। मामला दो समुदाय के बीच होने के कारण इलाके में तनाव व्याप्त है। आइए जानते हैं क्‍या है पूरा मामला और अब तक इस मामले में क्‍या कार्रवाई हुई।
प्रयागराज के थाना खीरी क्षेत्र स्थित पूरा दत्तू गांव के पास रहने वाला किशोर खीरी स्थित निजी स्कूल में 10वीं का छात्र था। इसी स्‍कूल में उसकी चचेरी बहन भी पढ़ती है। आरोप है कि सोमवार (28 अगस्‍त) को दोपहर स्कूल में कुछ छात्रों का किशोर से विवाद हुआ था। इस दौरान स्कूल के एक शिक्षक ने उन्हें समझाकर मामला शांत करा दिया था।
शाम करीब चार बजे स्कूल की छुट्टी हुई। इसके बाद किशोर और उसकी बहन अलग-अलग साइकिल से घर लौट रहे थे। रास्ते में तुर्क पुरवा गांव में चार लड़कों ने दोनों को घेर लिया। लड़कों ने छात्रा का हाथ पकड़ा तो भाई ने विरोध किया। इसके बाद चारों लड़कों ने छात्र को पकड़ कर लकड़ी से पीट-पीटकर अधमरा कर दिया।
घटना की सूचना म‍िलते ही खीरी थानाध्यक्ष नवीन सिंह मय फोर्स के मौके पर पहुंचे और घायल किशोर को अस्पताल ले जाने के लिए निकले लेकि‍न रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। क‍िशोर की मौत की खबर म‍िलते ही उसके पर‍िजनों में कोहराम मच गया। आक्रोशि‍त पर‍िजनों और ग्रामीणों ने किशोर के शव को वापस लाए जाने की मांग को लेकर खीरी चौराहे पर जाम लगा दिया। मंगलवार को भी ग्रामीणों का हंगामा जारी रहा। लाठी, डंडा लेकर तमाम महिलाओं ने खीरी थाने में घुसने की कोशि‍श की।
इस मामले में दूसरे समुदाय के चार लड़कों पर छेड़खानी और हत्या का आरोप लगाया गया है। मामला दो समुदाय के बीच होने के कारण इलाके में तनाव व्याप्त हो गया है।
पुलिस कमिश्नर रमित शर्मा ने मंगलवार को बताया क‍ि इस मामले में सभी पांचों आरोप‍ियों को गि‍रफ्तार कर ल‍िया गया है। इसके साथ ही एचएचओ और चौकी इंचार्ज को सस्‍पेंड क‍िया गया है। हलांकि मृतक किशोर के परिजन इस कार्यवाई से संतुष्ट नहीं है।

Comments

Popular posts from this blog

जिले के पांच प्राथमिक विद्यालयो के औचक निरीक्षण में तीन विद्यालय के मास्टरो को मिली कारण बताओ नोटिस, रोका गया वेतन

स्कूल के आफिस में प्रिसिंपल और टीचर की अश्लील हरकते हुई वायरल,पुलिस क्यों है बेखबर?

परिषदीय विद्यालयो में डिजिटल उपस्थित का शिक्षको के विरोध के बीच अब सीएम योगी का दखल,जानिए जिम्मेदारो को क्या मिला आदेश