वाह रे पुलिस उच्चाधिकारियों के आदेश के बाद दर्ज करती है मुकदमा,तो क्यों न बढ़े अपराधियों के हौसले

 
 जौनपुर।  थाना केराकत क्षेत्र स्थित  ग्राम पसेवां निवासी  विकास निषाद की 17 वर्षीया पुत्री नेहा का शव गत शनिवार को सुबह घर से थोड़ी  दूर एक बगीचे में  झाड़ी के पास मिला था तथा मृतका के गले में  एक लाल रंग का गमछे लिपटा  था। परिजनों का कहना है कि शुक्रवार को वह रात में  भोजन करने के बाद चारपाई पर सो गयी। सुबह जब वह बिस्तर  से गायब मिली तो खोजबीन  किया गया तो उसका शव झाड़ी मिला । परिजनों  ने शव का अंतिम संस्कार  पुलिस को सूचना  दिये बगैर ही कर दिया। किन्तु  जब परिजनों  ने देखा तो  शुक्रवार की देर रात में  मेरी पुत्री  व उसकी दादी के मोबाइल पर तीन अलग अलग नंबरो  से फोन आये हुए थे और गंदी फ़ोटो  भी भेजा गया था। जिस पर आशंका होने के बाद किशोरी के पिता कोतवाली में  पहुंच कर एक इस आशय का प्रार्थना पत्र  दिया कि मुझे आशंका  है कि मेरी पुत्री का अपहरण करके कुछ लोगों  झाड़ी मे ले जाकर उसके साथ सामुहिक  गैंगरेप करके उसकी हत्या कर दिये हैं। लेकिन  पुलिस  ने मुकदमा  दर्ज  नहीं  किया। इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक से किया इसके बाद एसपी के निर्देश पर जब एस पी सिटी  मंगलवार को मौके पर जाकर  परिजनों से पूछताछ किया और जांच  किया तो उन्होंने  केराकत कोतवाल बिंदकुमार को एफ आई आर दर्ज कर कार्यवाही करने का आदेश  दिया। तब जाकर पुलिस ने  मंगलवार को देर शाम  हत्या  व सबूत नष्ट की धारा के तहत अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है । इस मामले में  किशोरी के मामा  इन्द्र जीत निषाद  ने बताया कि  जब हम अपने जीजा के साथ एफ आई आर की कापी लेकर केराकत कोतवाली से   निकल रहे थे तो बाइक सवार लोग कोतवाली के बाहर खड़े  थे जो मुझे यह कहकर धमकी दे रहे थे कि यही सारा मुकदमा  लिखवा रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र