जमीनी विवाद में चटकी लाठियां चार की हुई मौत,पुलिस पर लापरवाही का आरोप

 



अमेठी में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। लंबे समय से चल रहे जमीनी विवाद में हुई मारपीट में पूर्व प्रधान सहित 4 लोगों की हत्या कर दी गयी है। वही घटना में आधा दर्जन से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे है। मृतक के परिजन पुलिस पर रिश्वत लेने की आशंका व्यक्त कर रहे है। एस डीएम पुलिस क्षेत्राधिकारी सहित भारी तादत में पुलिस बल मौके पर पहुंच गई है। घायलों को इलाज हेतु जिला चिकित्सालय भेजा गया है।पुलिस मामले कार्यवाही करने में जुट गई है। जिले के थाना कोतवाली अमेठी अंतर्गत गुंगवाछ राजा पुर गांव में जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट हो गई।देखते ही देखते दर्जनों लोग लहूलुहान हो गए।गांव के ही पूर्व प्रधान अमरेश यादव और बृजेश का जमीन विवाद चल रहा था।मंगलवार को बृजेश के घरवाले विवादित जमीन पर निर्माण कर रहे थे।पूर्व प्रधान और उनके घर वाले उन्हे काम बंद करने के लिए मना करने गए।जिस पर उपरोक्त लोग धार दार हथियार और लाठी डंडे से पूर्व प्रधान के घर वालों के ऊपर टूट पड़े। जिसमे अमरेश 45,हनुमान 50, संकठा 70,धन्नू देवी,42 नइका 60,राजकुमार 12,अशोक 30 घायल हो गए।परिजनों ने अनन फानन में घायलों को इलाज हेतु अस्पताल ले गए।जहां अमरेश 45,हनुमान 50, संकठा की मौत हो गई।घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है।

मृतक के परिजन गायत्री ने बताया कि घर के सामने बंजर जगह थी। जिसे लेकर विवाद चल रहा था।इसके पूर्व समझौता भी हुआ था। मंगलवार को वे लोग पुनः काम लगवा दिए।जिस पर हमारे घर वाले काम बंद कराने के लिए रोकने गए। जिस पर वे लोग मार कर गिरा दिए।गायत्री ने बताया कि पुलिस से शिकायत की गई थी।पुलिस जैसे ही मना करके वापस आई वे लोग पुनः काम चालू कर दिए। गायत्री ने पुलिस के ऊपर रिश्वत लेने की भी आशंका व्यक्त किया है। एतिहात के तौर पर घटना स्थल पर भरी तादत में पुलिस फोर्स लगा दी गई। सूचना मिलते ही उपजिलाधिकारी अमेठी संजीव कुमार मौर्य पुलिस क्षेत्राधिकारी अर्पित कपूर मौके पर पहुंच गए।


पुलिस कार्यवाही में जुट गई है। दो पटीदारों में जमीनी विवाद को लेकर लाठी डंडों से मार पीट हुई पूरे मामले में एडिशनल एसपी अमेठी विनोद कुमार पांडेय ने बताया कि दो यादव पक्ष के दो पटीदारों में जमीनी विवाद को लेकर लाठी डंडों से मार पीट हो गई। जिसमे तीन लोगों की मौत हो गई। कई अन्य लोग घायल हो गए।घायलों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। मामले में अभियोग पंजीकृत किया जा रही है।अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पांच टीमें लगा दी गई है। शीघ्र ही घटना में शामिल अभियुक्तों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन