'द कश्मीर फाइल्स',को लेकर अखिलेश यादव का बड़ा बयान,आखिर 'लखीमपुर फाइल्स' क्यों नहीं


उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव का परिणाम आने के बाद आज, बुधवार को पहली बार समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मीडिया से मुखातिब हुए और इस दौरान अखिलेश यादव बोले, 'इस चुनाव में उनकी पार्टी की नैतिक जीत हुई है।' इसी दौरान उन्होंने एक बार फिर लखीमपुर मुद्दे को उठाते हुए कहा, 'द कश्मीर फाइल्स' की तरह 'लखीमपुर फाइल्स' भी बननी चाहिए। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव आज पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह वर्मा के भाई और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष महेंद्र वर्मा के निधन पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में सीतापुर के महमूदाबाद कस्बे पहुंचे थे। इसी दौरान वो मीडिया से रूबरू हुए। 
अखिलेश यादव ने कश्मीरी पंडितों के विस्थापन और दर्द पर बनी और हालिया चर्चित फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' को लेकर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा, 'द कश्मीर फाइल्स' की तरह ही लखीमपुर कांड को लेकर भी 'लखीमपुर फाइल्स' फ़िल्म भी बनानी चाहिए। उन्होंने कहा, सीतापुर के पड़ोसी जिले में किसानों को जीप से कुचल दिया गया। अब समय आ गया है कि इस हिंसा पर भी फिल्म बने।' चुनाव में हमारी नैतिक जीत हुई है इसके बाद सपा अध्यक्ष ने हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव को लेकर मीडिया से कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा, कि 'इस चुनाव में समाजवादी पार्टी की नैतिक जीत हुई है। प्रदेश की जनता के सहयोग से सपा बढ़ रही है और भारतीय जनता पार्टी घटी है। या यूं कहें, कि जनता का जो समर्थन मिला है उससे हमारा वोट प्रतिशत बढ़ा है। जनता ने समाजवादियों की सीटें बढ़ाई। लेकिन, बुनियादी सवाल आज भी कायम है, जैसे- महंगाई, बेरोजगारी और यूपी के विकास आदि। भाजपा को इन बुनियादी मुद्दों पर जवाब देना ही होगा।' ऐसे परिणाम की उम्मीद नहीं थी यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों को उठाते हुए कहा, 'चुनाव में ऐसा परिणाम आएगा, किसी ने नहीं सोचा था। कई लोगों ने जहर खा लिया। कई लोग शर्त हार गए। मगर, इस परिणाम ने समाजवादियों को नैतिक जीत दिलाई। भविष्य में सदन में जो भी कार्यवाही होगी उसमें समाजवादियों की भूमिका दिखाई देगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन