सरकार दिव्यांगजनो पर हुई मेहरबान, मोटराइज्ड ट्राई-साइकिल देगी मुफ्त


उत्तर प्रदेश सरकार आर्थिक रूप से कमजोर दिव्यांगजनों को मुफ्त मोटराइज्ड ट्राई-साइकिल उपलब्ध कराएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करीब ढाई वर्ष पहले प्रत्येक लोकसभा क्षेत्र में 100-100 मोटराइज्ड ट्राई-साइकिल देने की घोषणा की थी। अब मुख्यमंत्री की घोषणा को पूरा करने के लिए दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग  जुट गया है।
पहले इस योजना के तहत सरकार अधिकतम 25 हजार रुपये का अनुदान देती थी, जबकि मोटराइज्ड ट्राई-साइकिल 42 से 45 हजार रुपये की आती है। ऐसे में शेष धनराशि दिव्यांगों को अपने पास से देना पड़ता था। अब सरकार ने इस नियम में संशोधन करते हुए पूरी तरह मुफ्त मोटराइज्ड ट्राई-साइकिल देने का निर्णय लिया है।
मुफ्त मोटराइज्ड ट्राई-साइकिल वितरण योजना का लाभ 16 वर्ष से अधिक उम्र के ऐसे दिव्यांगजन को मिलना है जिनके परिवार की वार्षिक आय 1.80 लाख रुपये से अधिक न हो। इसमें शर्त यह है कि दिव्यांगजन के कमर से ऊपर का हिस्सा स्वस्थ्य हो ताकि वह मोटराइज्ड ट्राई-साइकिल चला सके। यह उन्हें दी जाएगी जिनकी दिव्यांगता 80 प्रतिशत या इससे अधिक हो।
वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले ही मुख्यमंत्री योगी मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल बांटना चाहते थे लेकिन प्रक्रिया पूरी करने में विलंब हो गया और यह बंट नहीं पाईं। अब मुख्यमंत्री की घोषणा को पूरा करने के लिए विभाग जुट गया है।
दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग की ओर से बुधवार को जारी संशोधित नियमावली के अनुसार अब सरकार मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल खरीद कर खुद देगी। मुख्यमंत्री की घोषणा के तहत 80 लोकसभा क्षेत्रों में आठ हजार मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल बंटनी थी।
इसमें से 1563 दिव्यांगजन पुराने नियमों के तहत 25 हजार रुपये का अनुदान लेकर मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल ले चुके हैं। ऐसे में शेष 6437 दिव्यांगजनों को नए नियम से फायदा होगा। उन्हें पूरी तरह मुफ्त मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल सरकार प्रदान करेगी। सरकार ने इसे जेम पोर्टल से खरीदने के निर्देश दिए हैं।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर