पीयू में धूमधाम से मनाई गई विश्वकर्मा जी की जयंती, मंत्रोच्चार के बीच किया गया हवन पूजन


जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के उमानाथ सिंह इंजीनियरिंग संस्थान के मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल विभाग के वर्कशाप में विश्वकर्मा पूजन धूमधाम से मनाया गया।इस अवसर पर संकाय अध्यक्ष ने  कहा कि विश्वकर्माजी देवशिल्पीकार थे। यानी की देवताओं के वास्तुकार के रूप में पूजा जाता है। 
मैकेनिकल विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर संदीप सिंह ने कहा कि विश्वकर्मा जी में अपने शक्ति से  देवताओं के उड़ान रथ, महल और हथियार का भी निर्माण किया था। यहाँ तक की यह भी माना जाता है की इंद्र का महा अस्त्र जो ऋषि दधिची की हड्डियों से बना हुआ था वह भी विश्वकर्मा ने ही बनाया गया था।
इलेक्ट्रिकल विभाग के प्रो. रजनीश भास्कर ने कहा कि विश्वकर्मा जी न सिर्फ स्वर्ग बल्कि उन्हें इस पूरे सृष्टि का निर्माता माना जाता है। उन्होंने सतयुग में सोने की लंका जहाँ  रावण रहा करता था, त्रेता युग में द्वारका शहर, जहाँ श्री कृष्ण थे, द्वापर युग में हस्तिनापुर शहर का निर्माण कराया था।
प्रो. संदीप कुमार सिंह के साथ संकाय अध्यक्ष ने वर्कशॉप की मशीनों का निरीक्षण किया और मशीनों के रख-रखाव पर प्रसन्नता व्यक्त की I विभाग के प्राध्यापकों डा. हेमंत कुमार सिंह, डा.दीप प्रकाश सिंह, डा. नवीन चौरसिया, डॉ. शशांक दुबे, डॉ. हिमांशु तिवारी, डॉ.अंकुश गौरव, डॉ. सुबोध कुमार , डॉ.जया शुक्ला, फोरमैन सीपी सिंह , संतोष उपाध्याय एवं केके मिश्र आदि उपस्थित थे I  छात्र-छात्राओं ने बड़ी संख्या में पूजा में प्रतिभाग किया तथा छात्र प्रतिनिधियों अमित कुमार  अमन यादव एवं अंकिता सिंह के नेतृत्व में कार्यशाला की सजावट का कार्य किया गया I

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मौसम विभाग का एलर्ट इन 23 जिलो में हवाओ के साथ होगी बरसात

दुर्गा पूजा पंडाल में लगी आग छ: की मौत 50 से अधिक झुलसे सभी बीएचयू ट्रामा सेंटर रेफर

खाकी वर्दी में घूम रहा नकली फर्जी, जालसाज इंस्पेक्टर गिरफ्तार, लड़क‍ियों की श‍िकायत