मोरबी के मच्छु नदी में डूबने से मरने वालो की संख्या पहुंची 143,जानें कितने बच्चे मरे



 गुजरात के मोरबी में मच्छु नदी पर बने झूलते ब्रिज के रविवार शाम टूट जाने से हुए हादसे में मरने वालों की संख्या बढकर 143 तक पहुंच गई है। हालांकि प्रशासन ने अभी तक 134 लोगों की ही मौत की पुष्टि की है। मरने वालों में 23 बच्चे व 36 महिलाएं शामिल हैं। पुल की क्षमता सौ से सवा सौ लोगों की थी लेकिन हादसे के वक्त इस पर 300 से अधिक लोग मौजूद थे।

स्थानीय युवकों, तीनों सेना, एनडीआरएफ तथा फायर ब्रिगेड ने पूरी रात राहत एवं बचाव कार्य करते हुए 177 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला। पुल संचालन से जुडे 9 लोगों की धरपकड की पूछताछ की जा रही है। पुल संचालन करने वाली ओरेवा कंपनी के मालिक भूमिगत हैं।

अहमदाबाद से करीब 200 किमी दूर मोरबी शहर में मच्छु नदी पर बने 143 साल पुराने झूलते केबल ब्रिज को गत 25 अक्टूबर को [ करीब 7 माह तक मरम्मत के बाद ] गुजराती नववर्ष के एक दिन पहले ही खोला गया था। मोरबी नगर पालिका ने स्थानीय ओरेवा कंपनी के साथ इस पुल की मरम्मत कर संचालन का समझौता किया था लेकिन प्रशासन से जरुरी मंजूरी व फिटनेस प्रमाण पत्र के बिना ही ओरेवा के मालिक जयसुख भाई पटेल ने अपनी पौती से उद्घाटन करा लिया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए बदमाशो का शव उनके पिता ने लेने से किया इनकार जानें कारण

गुरूजी को अपनी छात्रा से लगा प्रेम रोग तो अब पहुंच गए सलाखों के पीछे,थाने में हुआ एफआइआर दर्ज

पुलिस मुठभेड़ में दो सगे भाई बदमाश मारे गये एक फरार जिसकी तलाश जारी है