प्रदेश कांग्रेस का फैसला कार्यकर्ता शहीद जवानों के घरों पर जाकर बनेगे सुख दुख के साझीदारों - अजय कुमार लल्लू



लखनऊ: लद्दाख में भारत-चीन सीमा विवाद में वीरगति को प्राप्त हुए सैनिकों को श्रद्धाजंलि देते हुए प्रदेश कांग्रेस ने फैसला किया है कि यूपी के सभी जिलों में पार्टी कार्यकर्ता सेना जवानों के घर जा कर उनके सुख-दुख के साझीदार बनेंगे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने शुक्रवार को पार्टी कार्यालय में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए तथा कांग्रेस नेता राहुल गांधी को जन्मदिन की बधाई देते हुए कहा कि भारत-चीन सीमा पर तनाव व सैनिकों की शहादत के साथ ही महामारी के प्रकोप के चलते राहुल गांधी के जन्मदिवस पर कोई कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया है। बल्कि इस दिन से यूपी के कांग्रेसजन सेना के जवानों का हालचाल लेने की शुरुआत करेंगे।


शहीदों के परिजनों के सुख-दुख में साझीदार बनने की शुरुआत कर दी है
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों, तहसीलों व ब्लाकों में गांव गांव कांग्रेस जवानों के घर जाएंगे और उनकी कुशलक्षेम पूंछेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी के सेवा कार्यों के आह्वान को लेकर कांग्रेसी प्रदेश में गरीबों, मजदूरों, किसानों व बेरोजगारों की सेवा में जी जान से जुट गए हैं। उन्होंने कहा कि शुक्रवार से कांग्रेसजनों ने शहीदों के परिजनों से मिलने व उनके सुख-दुख में साझीदार बनने की शुरुआत कर दी है। उन्होंने कहा कि मुश्किल घड़ी में पार्टी पूरी तरह से देश के स्वाभिमान, संप्रभुता व सुरक्षा के लिए सेवा को तत्पर है।
शहीदों को याद करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष वीरेंद्र चैधरी व पंकज मलिक ने कहा कि देश को बचाने में सेना के जवानों का अहम योगदान है और हम सब पर उनका कर्ज है। कांग्रेस संकट के क्षणों में अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए शहीदों और जवानों के परिजनों साथ खड़ी है।
वीरगति को प्राप्त हुए सैनिकों को श्रद्धाजंलि देने के लिए प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय नेहरू भवन में आयोजित सभा में अनुशासन समिति के सदस्य एवं पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला, प्रशासन प्रभारी अनूप गुप्ता व दिनेश सिंह, डॉ. प्रमोद कुमार पाण्डेय, वीरेन्द्र मदान, बृजेन्द्र कुमार सिंह, विवेकानन्द पाठक, सम्पूर्णानन्द मिश्र, शहनवाज खान, प्रवीन सिन्हा, श्रीमती सुनीता रावत, मुन्ना लाल भारती समेत कई वरिष्ठ नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद