स्वास्थ्य रहने के लिए योग वरदान साबित हो रहा है करें योग रहें निरोग - डा एस के सिंह

जौनपुर। योग के सैद्धांतिक और क्रियात्मक अभ्यासों को नियमित और निरन्तर अपनी जीवनशैली का महत्वपूर्ण हिस्सा बनाकर अपने स्वास्थ्य को सर्वोत्तम बनाते हुए सामान्यतः सभी रोगों से बचा जा सकता है इसलिए मानव स्वास्थ्य के लिए योग एक वरदान है। यह बातें नगर स्थित मंगलम् मैरेज हॉल में चल रहे 25 दिवसीय योग प्रशिक्षण शिविर में वरिष्ठ होम्योपैथिक चिकित्सक डा एसके सिंह नें कहा। पतंजलि योग समिति के प्रान्तीय सह प्रभारी अचल हरीमूर्ति के द्वारा इस समय रोगानुसार विविध प्रकार के आसन, व्यायाम, ध्यान और प्राणायामों के साथ यज्ञोपित चिकित्सा पद्धतियों का विधिवत प्रशिक्षण दिया जा रहा है। श्री हरीमूर्ति के द्वारा डायबिटीज, मोटापा और कोलेस्ट्रॉल से सम्बन्धित सम्पूर्ण समस्याओं से पूर्णतः समाधान हेतु कपालभाति प्राणायाम को अधिक से अधिक समय तक लोगों को करनें के लिए प्रेरित किया जा रहा है और उन्होंने बताया कि यह प्राणायाम संजीवनी की तरह मानव के शरीर,मन, चित्त और चेतना पर गहरा असर डालता है इसलिए कपालभाति प्राणायाम को एक महाअभियान के तहत जन जन तक पहुंचाया जा रहा है।

मण्डूक आसन, मर्कटासन , गोमुख आसन और भुजंगासनों के साथ जब इन्टिग्रेटेड योगाभ्यास के तहत अधिक समय तक कपालभाति प्राणायाम का अभ्यास किया जाता है तो डायबिटीज, मोटापा और कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं में बहुत ही कम समय में चमत्कारिक लाभ दिखाई देता है और इसके साथ ही व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता के साथ ऊर्जा का संचार बहुत तेजी से बढ़ जाता है। इस मौके पर योग शिविर के अध्यक्ष अधिवक्ता हरीनाथ यादव, कार्यक्रम संयोजक राजीव सिन्हा और कोषाध्यक्ष नवीन द्विवेद्वी के साथ संगठन के सभी साधकों की उपस्थिति रही।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात

सीएम योगी के एक ट्वीट से लखनऊ का नाम बदलने की सुगबुगाहट, जानें क्या हो सकता है नया नाम