सरकार शिक्षको की मांगो को लेकर वादा खिलाफी कर रही है उसे इसका खामियाज़ा भुगतान होगा - चेत नरायन सिंह


जौनपुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ ने आज 09 अगस्त को क्रान्ति दिवस के अवसर पर शिक्षको की पुरानी पेंशन सहित अपनी 06 सूत्रीय बहु प्रतीक्षित मांगो को लेकर सुधाकर सिंह के नेतृत्व में आंबेडकर तिराहा स्थित डा.भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा के सामने 11 बजे से 04 बजे तक मौनव्रत पर  रखा। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष चेतनारायण सिंह भी इस मौनब्रत में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। उनके  द्वारा यह बताया गया कि मार्च 2019 को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संगठन से  वार्ता के बाद बनी सहमति के बाद भी किसी भी मांग पर सरकार द्वारा कदम नहीं उठाया गया।
सरकार शिक्षकों  को भी चिकित्सीय सुविधा मुफ्त उपलब्ध कराने,वित्तविहीन शिक्षकों को 15000 रुपए आरटीजीएस के माध्यम से मानदेय, पुरानी पेंशन पर समिति के गठन के द्वारा एनपीएस को व्यावहारिक बनाकर इसे आकर्षक बनाने तथा केंद्र से इसे सुधार के लिए आग्रह करने,धारा 4क (क )  को 7(4) में परिवर्तित करने, विनियमितीकरण में धारा 8 की बाधा समाप्त करने जैसे  वादे किए गए। इन सभी मांगो को सरकार ने उसी हाल छोड़कर वादा खिलाफी की है,उल्टा कोरोना के नाम पर बार बार एस्मा लगा कर आंदोलन करने के मूलभूत अधिकारों से भी वंचित किया जा रहा है। सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।


संगठन ने जिलाध्यक्ष सुधाकर सिंह एवम जिलामंत्री प्रमोद सिंह के नेतृत्व में जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को संबोधित 6सूत्रीय  मांगपत्र का  ज्ञापन प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा गया। प्रांतीय उपाध्यक्ष नरसिंह बहादुर सिंह ने कहा की क्रांति दिवस पर संगठन अपने मांगो को लेकर मौन व्रत के माध्यम से अपना सांकेतिक विरोध व्यक्त किया है। कोरोना से स्थितियां सही होते ही  संगठन आंदोलन के अगले चरण की घोषणा भी करेगा।
इस मौन व्रत कार्यक्रम में प्रांतीय मंत्री अजय प्रकाश सिंह, जिलामंत्री प्रमोद सिंह, जिला उपाध्यक्ष डा. प्रविंद सिंह, जय प्रकाश सिंह,रामप्रकाश सिंह,रणंजय सिंह,प्रशांत पांडे, राजेश यादव, चंद्रप्रकाश दुबे, संतोष सिंह रघुवंशी,पतिराम यादव,अखिलेश चंद्र,संतोष सिंह,वी एन शाक्य,अशोक पांडे,राजेश प्रजापति, डा.धीरेंद्र सिंह,गौरव सिंह सहित बड़ी संख्या में शिक्षक गण उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम