हृदयाघात से बचने के लिए डाॅ बी एस उपाध्याय ने दी यह सलाह, जानें क्या करना होगा



जौनपुर : डायबिटीज से ग्रसित मरीज को उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्राल के स्तर को नियंत्रित रखना दिल की बीमारी के लिए जरूरी है। सर्दी का मौसम भी ऐसे रोगियों के लिए खतरनाक है। यह बातें वरिष्ठ चिकित्सक डाक्टर वीएस उपाध्याय ने रविवार को लायंस क्लब जौनपुर के डायबिटीज व हृदय रोग से बचाव के लिए जागरूकता कार्यक्रम में कही।

उन्होंने बताया कि दिसंबर व जनवरी में हृदयाघात, लकवा व ब्रेन हैमरेज से मौतें अधिक होती हैं। सर्दी के मौसम में सबसे अधिक परेशानी हृदय, गुर्दा और लकवा के रोगियों को होती है। इस मौसम में रोगियों का रक्तचाप और मधुमेह का स्तर बढ़ जाता है। अधिक सर्दी लगने से अचानक मौत का भय बना रहता है। हृदय रोग बढ़ने का कारण धमनियों में संकुचन होता है। गर्म कमरों में कार्बन मोनोक्साइड की अधिकता और आक्सीजन की कमी हो जाती है। दिन छोटा व सूर्य के दर्शन कम होने से अवसाद व तनाव बढ़ जाता है। इस अवसर पर मुख्य अतिथि जोन चेयरपर्सन दिलीप सिंह ने सेवा कार्यों की समीक्षा करते हुए क्लब के कार्यों की सराहना किया। डा. एनके सिन्हा ने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य के लिए व जीवन में अपार सुख-समृद्धि व खुशहाली के लिए परिवार में एकता, शांति सौहार्द और प्रेम का माहौल जरूरी है।

इस मौके पर सचिव अशोक मौर्य, महेंद्र नाथ सेठ, विवेक सेठ, सुरेश चंद्र गुप्ता, संदीप पांडेय, राधेरमण जायसवाल, डाक्टर शिवानंद अग्रहरि, संदीप गुप्ता, मिदहत फात्मा, गीता गुप्ता आदि उपस्थित रहे। स्वागत अध्यक्ष मदन गोपाल गुप्त ने किया। संचालन मंडल डायबीटीज चेयरमैन सैय्यद मोहम्मद मुस्तफा व आभार राम कुमार साहू व शत्रुघ्न मौर्य ने व्यक्त किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा ने पहले फेज के चुनाव हेतु प्रत्याशियों की जारी की सूची इन लगाया दांव

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

आइए जानते है मुन्ना बजरंगी के भाई को पुलिस ने क्यों किया गिरफ्तार