टीडीपीजी काॅलेज के चार शिक्षको के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआर,जानिए कारण


जौनपुर। जिले का टीडी पीजी काॅलेज एक बार फिर चर्चा में है। प्राचार्य से कक्ष में गाली-गलौज व मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। इसमें प्राचार्य की तहरीर पर थाना लाइन बाजार में मुकदमा दर्ज किया गया है।
टीडी पीजी काॅलेज के प्राचार्य डॉ.आलोक सिंह ने लाइन बाजार थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया कि शिक्षकों के समय से आने-जाने के लिए काॅलेज में बॉयोमेट्रिक अटेंडेंस की व्यवस्था की गई है। इसका कुछ शिक्षक विरोध कर रहे हैं। इसी बात को लेकर बीते दिवस 18 मार्च को दोपहर प्राचार्य कक्ष में चार शिक्षक डॉ.विजय कुमार सिंह, डॉ.राहुल सिंह, प्रोफेसर धर्मेंद्र कुमार सिंह, डॉ.शैलेंद्र कुमार सिंह घुस आए। इन्होंने बायोमेट्रिक अटेंडेंस प्रणाली का विरोध करते हुए मेरे साथ गाली-गलौज करते हुए मारने की धमकी देने लगे और सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाया। इस घटना के बाद काॅलेज में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। छात्र कालेज के बाहर गेट पर आ गए थे। सूचना पर मौके पर सीओ सिटी देवेश सिंह व लाइन बाजार थानाध्यक्ष केके चौबे ने फोर्स के साथ पहुंचकर मामला शांत कराया। लाइन बाजार थानाध्यक्ष केके चौबे ने बताया कि प्राचार्य की तहरीर पर चार शिक्षकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए आगे की कार्रवाई की जा रही है।
दर्ज मुकदमें के अभियुक्त शिक्षक प्रो. राहुल सिंह का बयान आया है कि प्राचार्य के सेवाकाल में अनियमितता है, काफी भ्रष्टाचार हुआ है। शिक्षक संघ उसका पहले से विरोध कर रहा है। उसी के प्रतिशोध में शिक्षक संघ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। शिक्षकों की समस्या को लेकर मंगलवार को मिलने गए थे। इन्हीं सब बातों को लेकर विवाद हो गया था। 
इस घटना के बाद सहज अनुमान लगाया जा सकता है कि टीडीपीजी काॅलेज में क्या चल रहा है और यहां के शैक्षिक माहौल की स्थिति क्या होगी। जब शिक्षक प्राचार्य पर हमलावर हो रहे है।

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व सांसद धनंजय सिंह के प्राइवेट गनर को गोली मारकर हत्या इलाके में कोहराम पुलिस छानबीन में जुटी

सपा ने जारी किया सात लोकसभा के लिए प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से मौर्य समाज पर दांव,बाबू सिंह कुशवाहा प्रत्याशी घोषित देखे सूची

लोकसभा चुनाव के लिए बसपा की चौथी सूची जारी, जानें किसे कहां से लड़ा रही है पार्टी, देखे सूची