चिकित्सक को अपना कार्य नैतिकता और सत्यनिष्ठा से करना चाहिए - डीएम मनीष कुमार वर्मा



डीएम की अध्यक्षता एथिक्स इन मेडिकल का हुआ पहला सेमिनार

जौनपुर । जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में उमानाथ सिंह स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय में सेमिनार एथिक्स इन मेडिकल प्रोफेशन का आयोजन किया गया। सेमिनार में जिलाधिकारी ने कहा कि आज के सेमिनार का विषय वर्तमान समय में अत्यंत प्रासंगिक होने के साथ हर व्यक्ति के  दिल से जुड़ा है प्रत्येक चिकित्सक को अपने कार्य को नैतिकता, सत्यनिष्ठा, विश्वास और कर्तव्यनिष्ठा से करना चाहिए। चिकित्सक मरीज के दर्द को अपना दर्द समझकर इलाज करें।
उन्होंने कहा कि डाक्टर और मरीज का संबंध भावनात्मक होता है, मरीज डॉक्टर को भगवान की तरह मानता है विश्वसनीयता बनी रहनी चाहिए और इस कार्य को सेवा भाव से करना चाहिए। महाविद्यालय के प्रिंसिपल शिवकुमार ने कहा कि हमारी मंशा है कि अतिशीघ्र 100 बच्चों के बैच प्रारंभ कर दी जाए और भविष्य में इसे मिनी पी.जी.आई.का रूप देना है, जिसमें जनपद के डॉक्टर संपूर्ण भारत में अपना योगदान दें।
मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला ने आश्वासन दिया कि सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करा दी जाएगी,जिससे जनपदवासियों को  लाभ मिले और किसी प्रकार का विलंब न होने पाए। इस अवसर पर टाटा प्रोजेक्ट लिमिटेड के सदस्य और डॉक्टर प्रीति, डॉ वंदना, डाक्टर तबस्सुम अन्य डाक्टर व कर्मचारी उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक

मनीष हत्याकांड का आरोपी 01लाख रुपए का इनामी, जौनपुर निवासी दरोगा विजय यादव हुआ गिरफ्तार, एसआईटी की पूंछताछ जारी