कानपुर बालिका गृह की बड़ी घटना दो बच्चियाँ गर्भवती ,कोरोना जांच के समय हुआ खुलासा




कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले से बड़ा मामला सामने आया है। यहां स्थित राजकीय बालिका गृह में दो नाबालिग लड़कियां प्रेग्नेंट हो गयी और आठ महीने तक इस बात की किसी को भनक तक नहीं लगी। मामला संज्ञान में तब आया जब बच्चियों की कोरोना जांच हुई। बड़ी बात तो ये है कि प्रेग्नेंट नाबालिगों में से एक एचआईवी से संक्रमित पाई गयी।

कोरोना काल में कानपुर में बहुत बड़ा कांड-

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम काण्ड के बाद अब कानपुर के एक बालिका गृह से बड़ा मामला सामने आया है। यहां स्वरूप नगर क्षेत्र में स्थित राजकीय बाल संरक्षण गृह की दो नाबालिग बच्चियां गर्भवती पाई गयी हैं। एक बच्ची तो एचआईवी से संक्रमित भी है। ऐसे में एक बार फिर आश्रय गृहों पर सवाल खड़े हो गए हैं।

राजकीय बालिका गृह की 56 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव

दरअसल, कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलो को देखते हुए बालिका संरक्षण गृह में तीन दिन पहले बच्चियों का कोरोना टेस्ट हुआ था। यहां रह रहे 91 लोगों के सैम्पल जांच के लिए मेडिकल कॉलेज में सैंपल भेजे गए। जांच के बाद जब रिपोर्ट आयी तो सब दंग रह गए। यहां 56 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव पाई गयीं, वहीं एक सुरक्षाकर्मी की रिपोर्ट भी कोविड पॉजिटिव आई है।
इसके अलावा मिली जानकारी के मुताबिक, 115 लड़कियां बालिका गृह में रह रही हैं, साथ ही स्टाफ के 34 कर्मचारी शामिल हैं। जिसकी जांच रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। ऐसे में इनको पनकी थाना क्षेत्र में बने क्वारंटाइन सेंटर में भेज दिया गया है।

कोरोना संक्रमित 2 नाबालिग लड़कियां प्रेग्नेंट

हालाँकि इससे भी बड़ा खुलासा हुआ। इन बच्चियों में से दो नाबालिग गर्भवती है। ये बच्चियां आठ महीने की प्रेग्नेंट हैं। दोनों बच्चियों को शहर के जच्चा-बच्चा अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। अन्य संक्रमित बच्चियों को भी इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है।


एक बच्ची एचआईवी संक्रमित, दूसरी में हेपेटाइटिस-सी के लक्षण

जो दो बच्चियां प्रेग्नेंट पाई गयी हैं, उनमे से एक एचआईवी से ग्रसित हैं, वहीं दूसरी में हेपेटाइटिस-सी के लक्षण भी पाए गए। सवाल खड़े हुए कि नाबालिग बच्चियां प्रेग्नेंट कैसे हुई और प्रबंधन को इस बात का पता कैसे नहीं चला कि बच्चियां गर्भवती हैं?

जिला प्रोबेशन अधिकारी अजीत कुमार ने बताया

जिला प्रोबेशन अधिकारी अजीत कुमार के मुताबिक, राजकीय बालिका गृह को सील कर दिया गया है। शेल्टर होम कि जिन दो लड़कियों के प्रेग्नेंट होने की बात सामने आई हैं, उनकी पूरी जानकारी प्राप्त की जा रहे है। जांच की जा रहे हैं कि बच्चियों को शेल्टर होम कब लाया गया।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र