जौनपुर में ब्लैक फंगस से हुईं एक परिवार को कर दिया बेसहारा,गांव में पसरा मातमी सन्नाटा



जौनपुर। जनपद के तहसील बदलापुर स्थित थाना सिगरामऊ के बर्रैयां गांव में एक परिवार पर ब्लैक फंगस ने कहर बरपा दिया। संक्रमित जवान बेटे की सांसें थमते ही विधवा मां, भाई और दो भतीजे बेसहारा हो गए। पीड़ित परिवार के कराह से पूरा इलाका गमगीन हो गया। 
मिली खबर के अनुसार ग्राम वासी 28 वर्षीय विवेक कुमार सिंह करीब महीना पहले सर्दी-जुकाम से पीड़ित हो गए थे। जिला मुख्यालय स्थित एक प्राइवेट नर्सिंग होम में इलाज चल रहा था कोरोना टेस्ट कराने पर पाजिटिव मिले। इलाज चल ही रहा था कि ब्लैक फंगस से संक्रमित होने की पुष्टि होने पर बेहतर इलाज के लिए उन्हें केजीएमसी लखनऊ में भर्ती कराया गया। वहां एक पखवाड़े तक विवेक जिदगी के लिए संघर्ष करते रहे। इलाज के ही दौरान कोमा में चले गये और बीते गुरुवार की देर शाम उनकी सांसें थम गई। यह मनहूस खबर आते ही घर में कोहराम मच गया। 
खबर है कि विवेक परिवार में एक मात्र था जो विधवा माँ एवं विधवा भाभी सहित दो छोटे भतीजो के जीविकोपार्जन की व्यवस्था और परिवार की जिम्मेदारी निभा रहा था। ग्रामीण जनो ने बताया है कि विवेक सिंह के पिता लाल बहादुर सिंह उर्फ लल्लू सिंह बरैया गांव के पूर्व प्रधान रहे उनकी गोली मार कर हत्या कर दिया गया। बड़े पुत्र बृजेश सिंह लगभग डेढ़ साल पहले सड़क दुर्घटना में काल के गाल में समा गये थे। जिसके कारण परिवार के भरण-पोषण की जिम्मेदारी विवेक के कन्धे पर थी उसके निधन से परिवार पर अब बज्रपात हो गया है। सबसे बड़ी समस्या बच्चों के परवरिश की उत्त्पन्न हो गयी है। इस ब्लैक फंगस ने एक परिवार को बेसहारा कर दिया है।      





टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर